parwah status

  • Parwah Shayari | परवाह शायरी इन हिंदी | Shayari on Parwah | Be Parwah Shayari Status 2 lines | Parwah Quotes in hindi with Images Download

    Parwah Shayari In Hindi  We are sharing the latest collection of Parwah Ki Shayari with Images. Find the best नई परवाह शायरी इन हिंदी Photos, Messages, Quotes, Status, Videos on our blog. Feel free to Download and share them on WhatsApp, Facebook, Instagram.

    Parwah Shayari

    काश तुम्हारी आग बुझा पाता मैं,
    काश तुम्हारे दाग मिटा पाता मैं,
    करनी न पड़ती परवाह ज़माने की,
    काश इतनी हिम्मत जुटा पाता मैं।

    काश तुम्हारी आग बुझा पाता मैं,
    काश तुम्हारे दाग मिटा पाता मैं,
    करनी न पड़ती परवाह ज़माने की,
    काश इतनी हिम्मत जुटा पाता मैं।
    Parwah shayari
    Parwah shayari

    Download

    दुनिया भूल गया मैं तुझको याद करते करते,
    और तु मुझे भूल गई निया कि परवाह करते करते।

    दुनिया भूल गया मैं तुझको याद करते करते,
    और तु मुझे भूल गई निया कि परवाह करते करते।
    Shayari on parwah
    Shayari on parwah

    Download

    ये फालतू की अफवाह मेरे अंदर फैलाओ ही मत,
    किसको मेरी कितनी परवाह है पता है मुझे तुम बताओ मत।

    ये फालतू की अफवाह मेरे अंदर फैलाओ ही मत,
    किसको मेरी कितनी परवाह है पता है मुझे तुम बताओ मत।
    Beparwah shayari
    Beparwah shayari

    Download

    कर न कुछ ऐसा कि ज़माना करे तुम पर सवालात,
    खुद की परवाह नहीं बस फिक्रमंद हैं तेरे ख़ातिर मेरे जज़्बात।

    कर न कुछ ऐसा कि ज़माना करे तुम पर सवालात,
    खुद की परवाह नहीं बस फिक्रमंद हैं तेरे ख़ातिर मेरे जज़्बात।
    Kisi ki parwah nahi hindi shayari
    Kisi ki parwah nahi hindi shayari

    Download

    न मुझे वाह-वाह चाहिए,
    न किसी के ख्यालों में पनाह चाहिए,
    “कैसी हो” बस यही दो शब्द की परवाह चाहिए।

    न मुझे वाह-वाह चाहिए,
    न किसी के ख्यालों में पनाह चाहिए,
    "कैसी हो" बस यही दो शब्द की परवाह चाहिए।
    परवाह शायरी
    परवाह शायरी

    Download

    बेपरवाह शायरी

    मत करो परवाह अब तुम कोई रहबर ढूँढ़ लो,
    स्वतंत्र तुमको कर दिया है मुझसे बेहतर ढूंढ लो।

    मत करो परवाह अब तुम कोई रहबर ढूँढ़ लो,
    स्वतंत्र तुमको कर दिया है मुझसे बेहतर ढूंढ लो।
    Parwah shayari in hindi
    Parwah shayari in hindi

    Download

    ❤️ Watch Heart Touching Shayari ❤️

    हम उनकी मोहब्बत में ज़रा बेपरवाह क्या हो गये,
    वो हमें इल्ज़ाम-ए-लापरवाह दे गये।

    हम उनकी मोहब्बत में ज़रा बेपरवाह क्या हो गये,
    वो हमें इल्ज़ाम-ए-लापरवाह दे गये।
    Parwah quotes in hindi
    Parwah quotes in hindi

    Download

    कौन करता है यहां परवाह दिले-नादान की,
    तोड़ना दिल एक रवायत आज है इंसान की।

    कौन करता है यहां परवाह दिले-नादान की,
    तोड़ना दिल एक रवायत आज है इंसान की।
    Duniya ki parwah nahi shayari
    Duniya ki parwah nahi shayari

    Download

    ख़्वाहिशें हमारी सारी गिरवी रख लो तुम,
    परवाह कर हमारी,बस ये शौक पूरी कर दो तुम।

    ख़्वाहिशें हमारी सारी गिरवी रख लो तुम,
    परवाह कर हमारी,बस ये शौक पूरी कर दो तुम।
    बेपरवाह शायरी
    बेपरवाह शायरी

    Download

    यह भी पढ़े :-

    मेरा दिल टूटा है मैं नहीं,
    तुम मुझे छोड़ दो अब इस बात की मुझे कोई परवाह नहीं।

    मेरा दिल टूटा है मैं नहीं,
    तुम मुझे छोड़ दो अब इस बात की मुझे कोई परवाह नहीं।
    Logo ki parwah mat karo shayari
    Logo ki parwah mat karo shayari

    Download

    परवाह शायरी इन हिंदी

    वो मेरी परवाह नहीं करते,
    मुझे इस बात की परवाह नही,
    परवाह इस बात की है कि,
    वो मेरी परवाह को परवाह नहीं समझते।

    वो मेरी परवाह नहीं करते,
    मुझे इस बात की परवाह नही,
    परवाह इस बात की है कि,
    वो मेरी परवाह को परवाह नहीं समझते।
    परवाह शायरी इन हिंदी
    परवाह शायरी इन हिंदी

    Download

    हम दोनों बस ये गुनाह करते हैं,
    आज भी एक दूसरे की परवाह करते हैं।

    हम दोनों बस ये गुनाह करते हैं,
    आज भी एक दूसरे की परवाह करते हैं।
    Parwah quotes
    Parwah quotes

    Download

    परवाह करते करते थक सा गया हूँ,
    जब से बेपरवाह हुआ हूँ,
    तब से आराम सा हैं।

    परवाह करते करते थक सा गया हूँ,
    जब से बेपरवाह हुआ हूँ,
    तब से आराम सा हैं।
    Beparwah shayari in hindi
    Beparwah shayari in hindi

    Download

    ❤️ Watch Heart Touching Shayari ❤️

    जो कभी भी मेरा परवाह नहीं करती थी,
    आज मेरे बेपरवाह होने पर परेशान है।

    जो कभी भी मेरा परवाह नहीं करती थी,
    आज मेरे बेपरवाह होने पर परेशान है।
    Care shayari
    Care shayari

    Download

    बेपरवाह थी ज़िन्दगी जब तक तुम साथ थे,
    तुम क्या गए अब सोचते है उस बेपरवाही में कितनी परवाह थी।।

    बेपरवाह थी ज़िन्दगी जब तक तुम साथ थे,
    तुम क्या गए अब सोचते है उस बेपरवाही में कितनी परवाह थी।
    Teri parwah shayari
    Teri parwah shayari

    Download

    Shayari on Parwah

    यूँ तो न किसी से शिकायत है न ही कोई गिले शिकवे,
    बस दर्द इस बात का है कि उनको हमारी परवाह नहीं।

    यूँ तो न किसी से शिकायत है न ही कोई गिले शिकवे,
    बस दर्द इस बात का है कि उनको हमारी परवाह नहीं।
    Parwah par shayari
    Parwah par shayari

    Download

    यह भी पढ़े :-

    जमाना कुछ भी कहें उसकी परवाह ना कर,
    जिसे ज़मीर ना माने उसे सलाम ना कर।

    जमाना कुछ भी कहें उसकी परवाह ना कर,
    जिसे ज़मीर ना माने उसे सलाम ना कर।
    Parwah ki shayari
    Parwah ki shayari

    Download

    मसला ये नहीं है कि गम कितना है,
    मुद्दा तो ये है कि परवाह किसको है।

    मसला ये नहीं है कि गम कितना है,
    मुद्दा तो ये है कि परवाह किसको है।
    Parwah shayari images
    Parwah shayari images

    Download

    तलब और मदहोशी मे गुजर गई ये जिंदगी ,
    साथ क्या जायेगा किसी को इसकी परवाह नही।

    तलब और मदहोशी मे गुजर गई ये जिंदगी ,
    साथ क्या जायेगा किसी को इसकी परवाह नही।
    Parwah nahi quotes in hindi
    Parwah nahi quotes in hindi

    Download

    मोहब्बत का कोई तराजू नहीं होता,
    परवाह बताती है कि प्यार कितना है।

    मोहब्बत का कोई तराजू नहीं होता,
    परवाह बताती है कि प्यार कितना है।
    Parwah status in hindi
    Parwah status in hindi

    Download

    Parwah Shayari in hindi

    अगर मैं दूसरों की तरह
    मोहब्बत में दिखावा नहीं करता,
    तो ये मत सोच की
    मैं तेरी दिल से परवाह ही नहीं करता।

    अगर मैं दूसरों की तरह
    मोहब्बत में दिखावा नहीं करता,
    तो ये मत सोच की
    मैं तेरी दिल से परवाह ही नहीं करता।
    Parwah attitude status in hindi
    Parwah attitude status in hindi

    Download

    आप अपनी समझ रखते हैं,
    मैं अपना मिजाज रखता हूँ,
    आप सही समझें या गलत,
    मैं अब परवाह नहीं करता हूँ।

    आप अपनी समझ रखते हैं,
    मैं अपना मिजाज रखता हूँ,
    आप सही समझें या गलत,
    मैं अब परवाह नहीं करता हूँ।
    फिक्र शायरी
    फिक्र शायरी

    Download

    हौसले की दुकान हूं मैं,
    अपनी नजर में महान हूं मैं,
    दुनिया क्या कहती है मुझें परवाह नहीं,
    इस धरती का गुलिस्तान हूं मैं।

    हौसले की दुकान हूं मैं,
    अपनी नजर में महान हूं मैं,
    दुनिया क्या कहती है मुझें परवाह नहीं,
    इस धरती का गुलिस्तान हूं मैं।
    Parwah sad hindi shayari
    Parwah sad hindi shayari

    Download

    मुझे नहीं परवाह सफ़र में और मुश्किलें क्या होंगी,
    बस एक तुम मेरी परछाई बनकर साथ चलते रहना।

    मुझे नहीं परवाह सफ़र में और मुश्किलें क्या होंगी,
    बस एक तुम मेरी परछाई बनकर साथ चलते रहना।
    Mujhe parwah nahi shayari
    Mujhe parwah nahi shayari

    Download

    अगर मेरे हालातों से कुछ
    मन में बुरा ख़याल आ जाता है,
    तो परवाह ना करना
    मुझे अपनी हद में रहना आता है।

    अगर मेरे हालातों से कुछ 
    मन में बुरा ख़याल आ जाता है,
    तो परवाह ना करना
    मुझे अपनी हद में रहना आता है।
    2 line parwah shayari
    2 line parwah shayari

    Download

    Parwah Shayari Status

    मैं भी कितना पागल हूं,
    उससे प्यार करता हूं,
    जिसको मेरी परवाह ही नहीं।

    मैं भी कितना पागल हूं,
    उससे प्यार करता हूं,
    जिसको मेरी परवाह ही नहीं।
    Parwah love shayari
    Parwah love shayari

    Download

    जिंदगी में हर जज़्बात शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता,
    कुछ जज़्बात किसी की परवाह में अपने आप झलक जाते हैं।

    जिंदगी में हर जज़्बात शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता,
    कुछ जज़्बात किसी की परवाह में अपने आप झलक जाते हैं।
    बेपरवाह शायरी इन हिंदी
    बेपरवाह शायरी इन हिंदी

    Download

    मतलबी सिर्फ मैं नहीं सारा जहाँ है,
    फिक्र और परवाह किसी को किसी की भी कहाँ है।

    मतलबी सिर्फ मैं नहीं सारा जहाँ है,
    फिक्र और परवाह किसी को किसी की भी कहाँ है।
    Parwah nahi shayari
    Parwah nahi shayari

    Download

    हजारों गीत हैं मेरे जहन में,
    मगर एक खास तराना ढूंढ रहा हूँ,
    जहाँ परवाह हो मेरी किसी को,
    वो एक ठिकाना ढूंढ रहा हूँ।

    हजारों गीत हैं मेरे जहन में,
    मगर एक खास तराना ढूंढ रहा हूँ,
    जहाँ परवाह हो मेरी किसी को,
    वो एक ठिकाना ढूंढ रहा हूँ।
    Parwah na karna shayari
    Parwah na karna shayari

    Download

    अपने जज्बातों को मैंने उस मुकाम पे ला रखा है,
    जहां परवाह नहीं मुझे कि मेरी बात कौन करता हैं।

    अपने जज्बातों को मैंने उस मुकाम पे ला रखा है,
    जहां परवाह नहीं मुझे कि मेरी बात कौन करता हैं।
    Parwah ki shayari
    Parwah ki shayari

    Download

    We hope you have enjoyed our collection of Shayari on Parwah with images. If so share these photos on Whatsapp, Facebook, Instagram.