Hindi Shayari

Death Shayari in Hindi | Maut Shayari for Love | मौत शायरी 2 लाइन्स हिंदी | Sad Death Shayari | Death Quotes Sms

Death Shayari in hindi | Zindagi aur Maut Shayari II Death Status
Death Shayari in hindi | Zindagi aur Maut Shayari II Death Status

Death Shayari In Hindi  We are sharing the latest collection of Sad Death Shayari with Images. Find the best हिन्दी नई मौत शायरी 2 लाइन्स  Photos, Messages, Quotes, Status, Videos on our blog. Feel free to Download and share them on WhatsApp, Facebook, Instagram.

Death Shayari Shayari in Hindi

ऐ मौत…!
क्या सुनाऊं अपने सब्र की कहानी,
तू उम्र भर रही, मेरी कब्र की रवानी।

ऐ मौत...!
क्या सुनाऊं अपने सब्र की कहानी,
तू उम्र भर रही, मेरी कब्र की रवानी।

मौत से मुलाक़ात तय है किसी को मिट्टी नसीब होगी किसी को आग,
ये ज़मीं भी तेरी आसमाँ भी दिया तुझको अब तू जितना चाहे भाग।

मौत से मुलाक़ात तय है किसी को मिट्टी नसीब होगी किसी को आग,
ये ज़मीं भी तेरी आसमाँ भी दिया तुझको अब तू जितना चाहे भाग।

न जाने किस गुनाह की सजा दे दी,
उसे लिखकर किसी ओर के नसीब में,
मेरे खुदा ने ही मुझे मौत दे दी।

न जाने किस गुनाह की सजा दे दी, 
उसे लिखकर किसी ओर के नसीब में,
मेरे खुदा ने ही मुझे मौत दे दी।

वक़्त का बिछड़ना ऐसे दिखाई दे रहा है,
हम जीते जीते अब मौत तक आ पहुँचे।

वक़्त का बिछड़ना ऐसे दिखाई दे रहा है,
हम जीते जीते अब मौत तक आ पहुँचे।

❤️ Listen Heart Touching Shayari ❤️

ज़िन्दगी का काफ़िला मौत से मिलाते है,
कि जलन आसमाँ के सितारों से नहीं, मिट्टी में दफन शख़्स से है।

ज़िन्दगी का काफ़िला मौत से मिलाते है,
कि जलन आसमाँ के सितारों से नहीं, मिट्टी में दफन शख़्स से है।

मौत से इस कदर डरते है हम,
मौत आसान करने के लिए
रोज़ मरते है हम।

मौत से इस कदर डरते है हम,
मौत आसान करने के लिए
रोज़ मरते है हम।

यह भी पढ़े :-

मेरी मौत उस दिन ही हो गई थी,
जिस दिन तुमने मुझको धोखा दिया,
अब तो बस खाक होना बाकी हैं।

मेरी मौत उस दिन ही हो गई थी,
जिस दिन तुमने मुझको धोखा दिया,
अब तो बस खाक होना बाकी हैं।

Maut Shayari

अदाओं से, दाँव-पेंच हूबहू करने लगे है वो,
जो मौत की दहलीज़ पर रहकर जीना सीखे ही नही।

अदाओं से, दाँव-पेंच हूबहू करने लगे है वो,
जो मौत की दहलीज़ पर रहकर जीना सीखे ही नही।

मौत भी टकराया न जाने कितने बार मुझसे,
पर मैं तेरा दीवाना था किसी और पे कैसे मर सकता था।

मौत भी टकराया न जाने कितने बार मुझसे,
पर मैं तेरा दीवाना था किसी और पे कैसे मर सकता था।

धुएँ के साथ उड़ जाने की फ़िराक़ में हूँ,
ना जाने कौन सी भूख की ख़ुराक में हूँ,
धुआँ-धुआँ करके पी रहा हूँ ये ज़िन्दगी,
मौत भी सोच रही है मैं किस ताक़ में हूँ।

धुएँ के साथ उड़ जाने की फ़िराक़ में हूँ,
ना जाने कौन सी भूख की ख़ुराक में हूँ,
धुआँ-धुआँ करके पी रहा हूँ ये ज़िन्दगी,
मौत भी सोच रही है मैं किस ताक़ में हूँ।

We hope you enjoy our collection of Death Shayari with Images. If so share these photos on Whatsapp, Facebook, Instagram.

यह भी पढ़े :-

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.